Home » मेरा बर्थडे गिफ्ट!

मेरा बर्थडे गिफ्ट!

मेरा नाम राहुल है, मैं दिल्ली का रहने वाला हूँ । आज मैं आपको अपने पहले सेक्स की कहानी सुनाने जा रहा हूँ । कल मैं १८ साल का हो गया । मेरी आज तक कोई गर्लफ्रेंड नहीं बनी । मैंने १५ साल की आयु से ही सेक्स विडिओ देखना शुरू कर दिया था । तब से ले कर आज तक मैं अपने लंड को शांत करने के लिए मुठ मारता रहा हूँ । इस उम्र में हर किसी को सेक्स की जरुरत होती है चाहे लड़का हो या लड़की । पर मेरी जरुरत कल तक पूरी नहीं हूई थी । पर कल की रात मैं जिंदगी भर नहीं भूल पाउँगा । कल रात मैंने  पहली बार एक लड़की को चोदा अपनी कार में और उसे अपने लंड का दीवाना बना दिया ।

कल मेरा 18वां जन्मदिन था और साथ ही मेरी जिंदगी की सब से हसीन रात । मैंने अपनी बर्थडे पार्टी एक डिस्को में दी थी कल रात। पार्टी में मेरे बहुत से दोस्त आए थे ओर   मैंने अपनी बहन और उसकी सहेलियों को भी इन्विटेशन दिया था। इस उम्मीद में की आज किसी न किसी लड़की को पटा के पूरी रात चोदूंगा । पार्टी देर रात तक चली और मेरे सभी दोस्त इतने कमीने थे कि मेरी पार्टी में अपनी सेटिंग कर ली और चूत के मजे लेने का इंतजाम कर लिया । आज मेरे सभी दोस्तों की रात रंगीन होने वाली थी। 

मैंने बहुत कोशिश की पर इतनी लड़कियों में से एक भी नहीं पटा पाया । शायद मेरी बहन पार्टी में थी इसलिए में खुल के किसी से बात नहीं कर रहा था । मुझे मेरी दीदी की एक फ्रेंड जिसका नाम अनन्या था वो बहुत पसंद थी । हम एक ही स्कूल में पढ़ते थे और मैंने सुना था बहुत बड़ी चुदकड़ है वो । गांड मरवा मरवा कर उसकी गांड बहुत मोटी हो गयी थी और जीन्स पहनती थी तो लगता था जीन्स फाड़ के बाहर आ जाएगी उसकी गांड । चूचियों का भी वही हाल था । कुल मिला के बोलू तो उसे देख के ही खड़ा हो जाता था लड़को का । मैंने उसपे भी बहुत ट्राई मारा पर बात नहीं बनी । आज भी मैं अकेला रह गया और इसलिए में बहुत दुखी था। पार्टी खत्म हुई और मेरे सभी दोस्त अपनी-अपनी वाली को ले कर  होटल रूम में चले गए, उन्हें चोदने के लिए । 

अब पार्टी में सिर्फ 3 लोग थे , मैं , मेरी बड़ी बहन, और अनन्या । हम भी घर जाने लगे। पहले मेरा घर था रास्ते में तो मेरी बहन बोली कि मैं घर जाती हु , तू अनन्या को इसके घर छोड़कर आना। मुझे मेरी बहन ने अनजाने में बहुत अच्छा मौका दे दिया , मैंने भी मना नहीं किया और चला गया अनन्या को  उसके घर छोड़ने। मैं कार बहुत धीरे चला रहा था क्योंकि उसका गोरा और गदरीला शरीर देख कर मेरा लंड खड़ा हो रखा था । वो भी बार बार मेरे लंड की तरफ देख रही थी । मेरे दिमाग में बस यही चल रहा था कि कैसे इसको चोदने कि लिए मनाऊ । 15 मिनट में हम अनन्या के घर पहुँच गए।   मैंने उसे कार से उतरने को बोला तो वो मना करने लगी।

वो मुझसे बोली कि तेरा मूड ठीक नहीं  है , क्या हुआ है बता पहले फिर  जाऊँगी मै।   मैंने उसे भेजने के लिए मजाक में  बोला  कि तूने कोई गिफ्ट नही दिया तो तुझसे नाराज हूँ । इतना सुन के उसने तुरंत मेरे लंड पर हाथ रखा और सहलाने लगी। मुझे समझ नहीं आया ये क्या हुआ अभी मेरे साथ ।

अनन्या बोली गिफ्ट अभी ले ले। कब से देख रही हूँ खड़ा है तेरा , इसे आराम दिला देती हूँ मैं । ये गिफ्ट चलेगा क्या?

 मुझे लगा  मजाक कर रही है और   मैंने उसका हाथ हटा दिया और बोला कि मज़ाक न कर मैं पहले ही बहुत परेशान हूँ । इतना सुन के वो तुरंत मुझे किस करने लगी और बोली कि मभी तड़प रही हूँ । आज मेरा बॉयफ्रेंड वादा कर के नहीं आया और जब से तेरा लुंड देख रही हूँ और ज्यादा तड़प रही हूँ । जीन्स के अंदर से इतना बड़ा लग रहा तो बाहर निकलेगा तो केसा होगा बस यही सोच रही हूँ । अब और न तड़पा, तू अपना बर्थडे गिफ्ट मुझसे ले और मैं अपनी प्यास बुझाती हूँ । 

मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था । किस करते करते उसने एक हाथ से मेरी पेंट की जिप खोली और मेरा लंड हाथ में पकड़ लिया और बोली हे भगवान् इतना बड़ा , आज तो मजा आ जायेगा । अनन्या मेरा लंड जोर जोर से हिलाने लगी । २-३ मिंट ऐसा करने क़े बाद उसने मेरा लंड मुँह में डाल लिया और चूसने लगी । मेरे साथ यह सब पहली बार हो रहा था , पर कसम से बहुत मजा आ रहा था।  जिस दिन  का इंतज़ार मैं पिछले ३ सालो से कर रहा था, वह आज आ गया।  

अब मुझसे भी रहा नहीं जा रहा था और   मैंने उसे कार की पिछली सीट पर जाने को बोला, वहां  पर और मजा आएगा।  अनन्या बोली ठीक है  पीछे चलते हैं वहां अच्छे से लेट कर सेक्स के मजे लेते हैं।  मैंने उसे लेटा दिया और उसके ऊपर चढ़ गया ।   मैंने उसका टॉप और ब्रा उतर दी और उसकी चूचिया मसलने लगा । साथ-साथ मैं उसे किस भी कर रहा था । उसकी गोल गोल चूचिया अभी मेरी आँखों के सामने हैं।  मैं भूल ही नहीं पा रहा उन्हें।  मैंने उसकी चूचिया अपनी जीभ से चाटना शुरू कर दिया।  वो भी पुरे मजे ले रही थी और बोल रही थी कि पी ले साले दूध पी कि ताकत ला और आज मेरी चुत की प्यास बुझा दे।  आअह्ह्ह्ह आआअह्ह्ह्हह ऊऊओह्ह्ह्ह आआअह्हह्ह्ह्ह उसकी ये आवाजे मेरा जोश बढ़ाने का काम कर रही थी।  

 थोड़ी देर चूचिया चूसने क़े बाद उसने  बोला मुझे पूरी नंगी कर दे , मेरी जीन्स और पेंटी भी उतार दे और तू भी पूरा नंगा हो।  मैंने ठीक वैसा ही किया जैसा उसने बोला।  उसने मेरे बाल पकड़ कर मेरा मुँह अपनी चुत पर रखा और बोली मेरी चूत  क़े पानी का स्वाद तो चख कर देख।  मुझे पता लग गया वो चूत चटवाने कि लिए बोल रही।  मैंने भी जीभ से उसकी चुत चाटना शुरू किया और उसे जन्नत की सैर  करवाई।  उसकी सिसकिया और आहे बता रही थी उसे कितना मजा आ रहा है । अब वो पूरी तरह चुदने कि लिए तैयार हो गयी थी।   अब उससे भी रहा नहीं गया और बोली क़े अब और ना तड़पा , मेरी चूत की प्यास बुझा , अपना लंड मेरी चूत में डाल और चोद मुझे । 

    मैंने भी तुरंत उसकी टाँगे उठायी अपने कंधो पे रखी और डाल दिया अपना मोटा लंड उसकी चूत में । पहली बार डालते ही वो चिल्लाई और बोली अबे राहुल तेरा लंड तो लगता है मेरी फाड् देगा ।   मैंने बोला निकाल लूँ  फिर क्या । उसने मुझे गाली दी और बोली  कि साले चोद मुझे निकाला तो मैं ऊपर चढ़ जाऊँगी और तेरा रेप कर दूंगी मुझे मजे चाहिए आज तेरे इस मोटे लंड क़े । मेरा जोश ये सुन कर  बढ़ गया और मैं जोर जोर से उसे चोदने लगा । वो बार बार बोलती रही और तेज और तेज , मैं  अपनी स्पीड बढ़ाता गया । करीब २० से २५ मिंट तक लगातार चोदने क़े बाद मेरा निकलने लगा ।   मैंने उसे बोला कि मेरा पानी निकलने वाला हैं , चुत कि अंदर ही निकाल दूँ ? 

अनन्या मजाक में बोली कि नहीं साले प्रेग्नेंट हो गयी तो बवाल हो जायेगा।  अभी मुझे शादी नहीं करनी हैं , जवानी कि मजे लेने है।  इतना बोल कि अब वो मेरे ऊपर आ गयी और  लंड मुँह में डाल क़े चूसने लगी ।  चूसते चूसते ही उसने मेरा पानी भी निकाल दिया और पूरा पानी अपने मुँह में ले  लिया । पता नहीं कितनी बड़ी चुदकड़ थी वो, पानी निकलने क़े बाद भी १० मिंट तक जीभ से चाटती रही मेरा लंड  ।  उसका और मेरा दोनों का मन नहीं था कि यह टाइम खत्म हो।  उसने बोला भी कि एक बार और करते हैं फिर चले जाना घर।  पर मुझे डर भी लग रहा था और रात के ३ बज गए थे।  मैंने उसे मना कर दिया और घर जाने को बोला।  

फिर उठ कर  कपडे पहनते हुए बोली अच्छा हुआ आज साला मेरा बॉयफ्रेंड नहीं आया , आता तो इतने बड़े लंड से चुदने का मौका नहीं मिलता।  इतने अच्छे से आज तक मुझे मेरे किसी बॉयफ्रेंड ने नहीं चोदा, मजा आ गया आज तो ।  मुझे भी बहुत मजा आया , मैंने बोला उसे , थैंक यू इतना मजेदार गिफ्ट देने क़े लिए । वो बोली थैंक यू ना बोल बस अब रोज मुझे अपने लंड क़े मजे देते रहना । इतना बोल क़े उसने मुझे किस किया और मेरे लंड को चूमा और घर क़े अंदर चली गयी । 

मुझे कल पूरी रात नींद  नहीं आई, यही  सब याद करता रहा ।  बेशक जिंदगी में और जितनी बार मर्जी सेक्स कर लूँ पर अनन्या की चुत और मेरा पहला सेक्स कभी नहीं भूल पाउँगा।  अब तो बस दूसरे मोके का इंतज़ार था और दूसरा मौका इतनी जल्दी मिलेगा ये सोचा नहीं था । अभी उसने  मुझे फ़ोन किया और अपने घर बुलाया है, आज पूरा घर खाली हैं उसका आज तो और मजा आएगा ।  आप कमेंट कर कि बताइए कैसी लगी आपको मेरी कहानी  और मैं जा रहा हूँ  फिर से उसे चोदने । 

और भी इस तरह की कहानिया पढ़ने के लिए हमारी वेबसाइट पर क्लिक करे