Home » लिंग में दर्द के लक्षण, कारण, इलाज और घरेलू उपाय

लिंग में दर्द के लक्षण, कारण, इलाज और घरेलू उपाय

लिंग में दर्द के घरेलू उपाय

व्यक्ति के शरीर मे बहुत से नाजुक भाग होते है, यदि इन नाजुक से भाग पर किसी तरह का दर्द होना शुरू हो जाता है तो व्यक्ति के लिए चिंता का विषय बन जाता है। जिसमे से लिंग एक है। लिंग व्यक्ति के शरीर को बहुत ही नाजुक भाग  होता है, यदि इस पर किसी प्रकार का दर्द होता है, तो व्यक्ति को बहुत परेशानीया पैदा हो सकती है। 

लिंग का दर्द व्यक्ति को एक न एक बार तो होता है, इससे हम आम तोर पर होने वाली समस्या भी कह सकते है। परंतु यह एक बहुत ही गंभीर परेशानी है। व्यकित की लापरवाही के वजह से लिंग पर जलन, दर्द, फंगल, खुजली आदि की परेशानी हो सकती है। लिंग मे दर्द होने की परेशानी के लक्षण  आम तोर पर व्यक्ति को दिख जाते है। समय रहते इन लक्षणो को पहचान कर लिंग के दर्द का इलाज किया जा सकता है। 

लिंग के दर्द का इलाज व्यक्ति घर पर भी कर सकता है। इसके लिए बहुत से उपाय ऐसे होते है, जो व्यकित के बहुत सेफ भी होता है, इसलिए व्यक्ति लिंग के दर्द के उपाय घर पर भी कर सकता है। 

लिंग का दर्द क्या है?

व्यक्ति के पेशाब करने, लिंग मे जलन होना, लिंग मे किसी तरह के मुड़ाव आने से लिंग मे दर्द होना शुरू हो जाता है। लिंग का दर्द लिंग के ऊपर, नीचे, व बीच के भाग पर  बहुत  ज्यादा असर करता है। 

 लिंग के दर्द के अलावा लिंग पर खुजली, जलन, लिंग की स्किन पर नमी भी हो सकती है। यह लिंग के दर्द के साथ होना आम बात है। लिंग के दर्द यदि तेज हो  रह है तो यह लिंग पर आने वाली चोट के कारण हो सकती है। यह दर्द अचानक से हो सकता है। 

लिंग में दर्द होने के लक्षण

व्यक्ति को  लिंग के दर्द हो सकता है  परंतु कई बार व्यक्ति इस साधारण सा दर्द समझ कर नजर अंदाज कर देते है। जिससे बाद मे  व्यक्ति को लिंग की दर्द ज्यादा हो जाता है। इसलिए इस परेशानी से पहले ही इसके लक्षण दिखाई दे जाते है, जिससे आप समय रहते लिंग के दर्द के लिए उपाय कर सकते है। चलिये जानते है इसके क्या क्या लक्षण होते है। 

  • लिंग के  अंदर के  हिस्से मे दर्द हो सकता है, यह दर्द पेनिस रूट पर हो सकता है। 
  • लिंग के बाहरी हिस्से पर दर्द हो सकता है, बाहरी हिस्सा को पेनिस शाफ्ट कहते है। 
  • लिंग का दर्द लिंग के ऊपर के हिस्से पर हो  सकता है। इससे आपको लिंग के परेशानी का पता चल जाएगा। 
  • लिंग के मूत्र मार्ग मे दर्द होना शुरू हो  जाता है। 
  • वीर्य मे खून का आना 
  • मूत्र मार्ग मे द्रव का निकलना
  • लिंग मे सूजन आना 
  • बार बार पेशाब आना
  • पेशाब का धीरे धीरे आना 
  • पेशाब करते समय दर्द होना 
  • पेशाब करते समय जलन पैदा होना 
  • पेट मे दर्द होना 
  • लिंग पर दाने बन जाना 
  • लिंग मे खुजली होना शुरू हो जाना 
  • पेनिस के आस पास की जगह पर सूजन आना 

ऊपर दिये गए लक्षण आम तोर पर व्यक्ति को  हो सकते है, परंतु यह अगर बार बार या ज्यादा  लंबे समय तक होना शुरू हो जाते है, तो लिंग के दर्द की परेशानी हो सकती है। लिंग का दर्द एक दम से शुरू नही होता है, यह दर्द धीरे धीरे होता है, यदि व्यक्ति समय रहते इस परेशानी को समझ जाता है तो वह इस दर्द को जल्दी ठीक कर सकता है। 

लिंग मे दर्द के बचाव 

लिंग मे दर्द व्यक्ति की लापरवाही के वजह से हो सकती है, इसके लिए व्यक्ति खुद भी कुछ  बातों को ध्यान मे रख कर इस दर्द को होने से बच सकता है। हमने  लिंग मे दर्द होने से बचाव के लिए कुछ तरीके नीचे बताए है। चलिये जानते है:

  • सेक्स करते समय हमेशा कोंडम का इस्तेमाल करना चाहिए यह आपके लिंग के दर्द होने से बचाता है। 
  • यदि किसी व्यक्ति को  पहले से यह परेशानी हो उसके साथ सेक्स नही करना चाहिए। यह परेशानी  दूसरे व्यक्ति से आप को भी  हो सकती है। 
  • सेक्स करते समय लिंग मे किसी तरह का मुड़ाव नही  आये इस बात का ध्यान रखे नही तो आपको बहुत परेशानी हो सकती है। 
  • यदि आपके लिंग पर किसी तरह हल्का सा भी संक्रमण का असर दिखाई दे तो आप इसकी रोजाना सफाई करना शुरू कर दे। लिंग पर किसी तरह का  संक्रमण नही रहने दे। 

लिंग में दर्द के घरेलू उपाय

लिंग में दर्द होने  पर आप घर मे भी इसका उपचार कर सकते है, हमने नीचे इसके लिए कुछ घरेलू उपायनको एक एक करके बताया है , यह कारगर साबित होंगे। चलिये जानते है। 

टी-ट्री ऑयल 

बहुत बार लिंग में दर्द के कारण स्किन पर संक्रमण के रह जाने से हो जाता है। यदि फंगल संक्रमण के वजह से आपे लिंग मे दर्द है तो आप टी-ट्री ऑयल का इस्तेमाल कर सकते है। 

यह एक बेहतरीन उपाय है। इसके अंदर एंटीफंगस व एंटीमाइक्रोबियल गुण जल्दी से असर करते है। जिससे लिंग का दर्द जल्दी से कम हो जाता है, परंतु इसको बड़ी सावधानी से काम मे लेना होगा, क्यूकी लिंग के आस पास की स्किन ज्यादा नाजुक होती है। सही से काम नही लेने पर यह एलर्जी भी कर सकता है। 

अजवाइन का तेल 

अजवाइन का तेल को ज़्यादातर लिंग के दर्द होने पर पहले काम मे लेने की सलाह दी जाती है। यह टी-ट्री ऑयल की तरह ही काम करता है। अजवाइन का तेल लिंग मे  होने लिंग मे संक्रमण के लक्षण  को कम  करने मे मदद करता है। 

एंटीफंगस होते है जो संक्रमण को कम करने मे असरदार होते है। यदि पेशाब करते समय दर्द महसूस होने पर आप अजवाइन का तेल काम मे ले सकते है। 

इसका इस्तेमाल करने से पहले लिंग के आस पास की स्किन पर लगा कर देख ले, क्यूकी यह एलर्जी भी कर सकता है। 

दही का इस्तेमाल 

लिंग पर बहुत बार बैक्टीरिया जमा हो जाते है, जिसके कारण लिंग पर छाले या फंगल हो जाते है। जिसकी वजह से लिंग मे दर्द होना शुरू हो जाते है। बहुत बार इस बैक्टीरिया के वजह से लिंग मे जलन भी  पैदा हो जाती है। 

इसके लिए आप घर पर उपचार कर सकते है। आप दही का इस्तेमाल लिंग के दर्द को कम करने के लिए कर सकते है क्यूकी दही मे लैक्टोबेसिलस के बैक्टीरिया होते है, जो की लिंग पर लगे बैक्टीरिया को खत्म कर देते है। 

लिंग के दर्द के उपाय के लिए दही एक सुरक्षित उपाय है, क्यूकी दही मे ठंडे गुण होते है, जिससे आपको किसी तरह की परेशानी नही आती है। 

नारियल का तेल

एक रिसर्च मे यह पाया गया है की लिंग के दर्द को कम करने के लिए नारियल का तेल भी एक बेहतर तरीका है। 

यह लिंग मे होने वाले संक्रमण को खत्म करने के लिए बहुत  सही उपाय है। नारियल तेल को आयर्वेदिक इलाज मे शुरू से ही काम मे लिया जा रहा है। जैसे  कब्ज की परेशानी, बालो की परेशानी, स्किन पर होने वाली परेशानी आदि के लिए काम मे लिया जाता है। 

नारियल का तेल को  लिंग पर लगाने से किसी प्रकार का हानीकारक प्रभाव नही होता है यह एक दम  सुरक्षित इलाज है। इसे लिंग के आसपास  की स्किन पर यदि नमी हो जाती है तो आप इसे रातभर लगा कर सो जाए। यह आपकी इस परेशानी को भी दूर कर देता है 

ठंडा सेक करने से 

बहुत बार लिंग मे दर्द को कम करने के लिए लिंग पर ठंडी सिकाई भी कर सकते है। यह  लिंग के दर्द पर जल्दी असर करता है। 

यह कुछ समय के लिए लिंग पर होने वाली जलन, दर्द, खुजली, सूजन को कम कर देता है। बहुत बार लिंग मे सूजन का कारण लिंग मे खून के प्रवाह के कारण हो जाता है। 

इस परेशानी के इलाज के लिए व्यक्ति ठंडी सिकाई कर सकता है, यह खून के प्रवाह को कम कर देता है। 

जिससे जल्दी राहत मिल जाती है। यह घर मे आसानी से किया जाना वाला उपाय है। ठंडी  सिकाई करते समय इस बात का ध्यान जरूर रखे की बर्फ को  सीध लिंग पर ना लगा ले, इससे लिंग पर जलन हो सकती है। 

सेब का सिरका 

लिंग के दर्द के उपाय मे सेब का सिरके का भी उपयोग करना बताया गया है। यह खास तोर पर लिंग पर होने वाली जलन को जल्दी से कम कर देता है। 

लिंग पर जलन का सबसे बड़ा कारण लिंग पर होने वाले फंगल है। यह बैक्टीरिया के ज्यादा समय तक रहने की वजह से हो  जाते है। आप इस परेशानी से छुटकारा पाने के लिए सेब का सिरके का उपाय कर सकते है। 

सेब का सिरके का इस्तेमाल करते समय ध्यान रखे कि यह बहुत जल्दी जलन पैदा कर सकता है। इसे काम लेते  समय पानी की मात्रा से कम ही रखे। 

इस लिंग के दर्द को कम करने के उपाय को करते समय पहले लिंग के आस पास की स्किन पर लगा कर देख ले।  अगर किसी तरह की जलन होती है तो आप इस उपाय को काम मे न ले।